Posts

5+ MORAL STORIES IN HINDI।कुछ ऐसी कहानिया जो आपकी जिंदगी बदल सकती है.

Image
Moral stories in hindi






मित्रआज आप कई कहानया ऐसी पड़गे जो आपको कहानी पड़नके अनुभव के साथ साथ. एक ज्ञान भी देंगी जो आपको आपका जीवजीने मैं जरूर मदद करेंगी.Moral stories in hindi कोवे की तरह सोचने वाले लोग 
मित्रो  एक बार की बात है एक कोवे आसमान मैं उड़कर कही जा रहा था. इस बक्त कोवे बहुत ही ख़ुश था क्युकी आज उसे अपना खाना कुछ ज्यादा ही अच्छा मिल गया था. अपना खाना खाने के बाद वो अब घूमने निकला था. अपनी ही धुन मैं उड़ते कोवे को आज हंस दिखा. कोवे
ने जैसे ही हंस को देखा. वो हैरान हो गया. क्युकी आज तक कोवे ने इतना सुंदर पक्षी नहीं देखा था. हंस था भी काफ़ी सुंदर उसका पूरा शरीर सफ़ेद पंखो से धका हुआ था. उसके पूरा शरीर पंखो से धका हुआ एक आकर मैं था. शाम के धलते सूरज की लाल रोशनी मैं हंस का शरीर और भी सुंदर दिख रहा था. कोवे अपनी उड़ान को रोककर हंस के पास गया.
उससे बोला
मैंने आज तक तुमसे ज्यादा सुंदर पक्षी नहीं देखा. तुम्हारा पूरा का पूरा शरीर सफ़ेद panhko से एक दम आकर मैं धका हुआ है. जो बाकई देखने लायक है. सच मैं तुम इस दुनिया के सबसे खूबसूरत और ख़ुश पक्षी हो.
हंस ने अपनी तारीफ को सुनते हुए. कोवे को धन्यवाद …

बचपन का प्यार❤️।LOVE ❤️STORIES IN HINDI

Image
LOVE STORIES IN HINDI


मित्रो आज आप किसीसे की बचपन की कहानी जानने वाले हो जिसको जानकर आपको बचपन का प्यार समझ आ जायगा. आपको साथ ही यह भी समझ आ जायगा की अगर आप. ऐन अपने प्यार को इजहार करने की हिम्मत ना हो तो आप अपने प्यार मैं कुछ भी नहीं कर सकते है.  बचपन का प्यार 
दोस्तों उस समय मैं काफ़ी छोटा था. सलोनी मेरे घर के पास ही रहती थी. उसके पापा एक ख़ुश मिजाज इंसान थे. उसकी मम्मी भी काफ़ी अच्छी थी. उसकी मम्मी और पापा ने लव मेर्रिज की थी. मुझे नहीं पता की यह कैसे हुआ. लेकिन उस टाइम पर उनको लव मेर्रिज करने मैं बहुत ही ज्यादा दिक्कत हुई होंगी. 
उस समय सलोनी और मैं और मेरे और uske बहुत से दोस्त पार्क मैं या कॉलोनी की गली मैं घूमते रहते थे. सलोनी और मैं पास ही के एक स्कूल मैं पड़ा करते थे. हम ज़ब स्कूल मैं pda करते थे. तब हम लोग छोटे होने की बजह से एक ही सीट पर बैठा करते थे. और साथ ही मैं लंच किया करते थे.उस बक्त हम साथ मैं मिलकर बहुत सारी मस्तिया किया करते थे. धीरे धीरे हम लोग साथ पड़ते पड़ते 14 साल के हो गए. आज तक हम लोग साथ ही है. सलोनी और मैं हमेसा काफ़ी हसीं मजाक करते रहते है. हम लोग कई बार स्कूल के गोल…

BEST LOVE♥️ STORIES IN HINDI। खट्टे सपने

Image
LOVE STORIES IN HINDI LOVE STORIES IN HINDI मित्रो आज आप ऑनलाइन प्यार से जुडी एक कहानी जानने वाले हो जिसको जानकर आप हैरान रह जाओगे की ऐसा भी हो सकता है  खट्टे सपने Love stories in hindi मित्रो कहानी उस समय की है ज़ब मैं अपने कॉलेज मैं था. उस समय एक लड़की जिसका नाम इशिका था. वो मुझे हमेसा देखती रहती थी. वो हमेसा मुझसे बाते करने के बहाने ढूंढ़ती रहती थी.लेकिन मैं उस समय प्यार जैसी किसी चीज को नहीं जानता था. इशिका एक खूबसूरतऔर गोरे रंग की पतले चेहरे बाली लड़की थी. उसका बात करने का अंदाज तो उससे भी अच्छा  था. हमें साथ पड़ते पड़ते दो साल हो गए थे इस समय मैं मैंने देखा था की चाहे उसकी उसके दोस्तों से कितनी भी बड़ी लड़ाई क्यों ना हो जाये लेकिन वो कभी भी ऐसी बाते नहीं कहा करती थी जिससे किसी का दिल दुखे.उसकी स्माइल तो उससे भी प्यारी थी. सायद उसकी यही बात उसको हमारे कॉलेज की सबसे खूबसूरत लड़की बनती थी.  हमारे कॉलेज के कई लड़के उसजे पीछे पड़े हुए थे लेकिन वो किसी को भी भाव नहीं देती थी. उस बक्त मैं सिर्फ लोगो से मजे लेते रहता था. उस समय इशिका थी तो हमारी ही क्लास मैं लेकिन मैं उससे बहुत कम बाते करता था लेकिन म…

।BEST HORROR STORIES IN HINDI।कब्रिस्तान की वो रात I

Image
HORROR STORIES IN HINDI



मित्रो आज आप कुछ ऐसी कहानिया पड़ने वाले हो जिनको  सुनकर आप जान जाओगे की ज़ब आप किसी भुत या प्रेत आत्मा ke.शामे आओगे तब आपको कैसा महसूस होगा 
कब्रिस्तान की वो रात 
मैं अपने शहर की एक बड़े से mall मैं नौकरी करता हूं. मुझे यहां नौकरी करते करते कई साल गए हैँ. मुझे यहां लोगो को कपडे दिखाने की नौकरी मिली है. 
एक दिन मैं ऐसे ही अपने घर पंहुचा. मैं अपनी दिन भर की नौकरी से थका हुआ था. मेरे कानो मैं अभी भी ग्राहकों की आवाजे गूंज रही थी. मेरे कान अभी भी इन्ही आवाजो से भरे हुए थे. मैंने घर पर आकर खाना बनाने से अच्छा मैगी बनाकर खा ली. और सोने के लिए चल दिया. मैं जा तो सोने रहा था लेकिन मेरे दिमाग़ मैं अभी भी दिन भर की बाते भरी हुई थी. इसीलिए मैंने सोचा सोने से अच्छा थोड़ा घूम कर आया जाये. 
इसीलिए मैंने जाकर अपने शरीर पर थोड़े कपडे डाले और घूमने चल दिया. मेरा घर रोड पर ही था. इसीलिए मैंने अपने घर के आस पास घूमने से अच्छा सोचा की रोड पर गाड़ियों के हॉर्न सुनने से अच्छा यहां से कही दूर घूम लू मैंने  ऐसा ही किया. 
उस बक्त रात के 11 बज रहे होंगे. मेरे कानो मैं अभी भी गाड़ियों की आवाजे आ रही थी…

अकबर बीरबल की मजेदार कहानिया।AKBAR BIRBAL STORIES IN HINDI !!!

Image
Akbar birbal ki majedar khaniya
                           कुत्ते की टेड़ी पूछ 

मित्रो बादशाह अकबर के यहां. बीरबल जैसे रतन थे तो वहा कुछ चापलूस भी थे जो हमेसा चापलूसी करके आगे बढ़ना चाहते थे. लेकिन उसके चापलूसी करके आगे बढ़ने मैं बीरबल हमेसा से ही सबसे बड़ा रोड़ा रहते थे. इसीलिए सभी चापलूस हमेसा बीरबल को बेइज्जत करने के लिए कुछ ना कुछ करते ही रहते थे. ऐसे ही एक बार कुछ चापलूसों ने बीरबल को बेइज्जत करने के लिए कुछ किया जो पड़ने के लायक है. तो चलिए पड़ते है अकबर बीरबल का यह मजेदार किस्सा. 
एक बार बादशाह अकबर के दरबार मैं एक चापलूस ने यह बात छेड़ दी की. इस दुनिया मैं सब कुछ संभव है लेकिन किसी कुत्ते की पूछ सीधी करना संभव नहीं है. सभी ने इस पर अपनी अपनी राय दी. इस पर बादशाह के दरवार से ही एक चापलूस aबोला. 
नहीं नहीं ऐसा बिलकुल संभव है. हमारे बादशाह के दरवार मैं बहुत से बुद्धिमान है. जो इसको बस पलक झपकते ही कर सकते है.
 चापलूस जानता था. की बीरबल ने आज तक हर पहेली को सुलझाया है. अगर बाकि दरवारियो के साथ साथ बीरबल भी अगर इस पर हार मन लेते है. तब उनकी इज्जत मैं कुछ ना कुछ गिरावट जरूर आएगी. 
कुछ दरवारियो ने…

Bedtime Panchatantra stories in hindi

Image
Bedtime Panchatantra stories in hindi 


मित्रो आज आप इस आर्टिकल मैं एक ऐसी कहानी जानने वाले हो जिसको पढ़कर आप जान जाओगे की कोई इंसान किसी भी चीज या जानवर से कितना लगाब कर सकता है.                             छीपा रहस्य 

मित्रो एक समय की बात है. कनाडा के एक शहर वेंटीकन मैं एक एक दूध की फैक्ट्री थी. जिसमें पियरे नाम का एक इंसान काम किया करता था. पियरे को इस फैक्ट्री मैं काम करते करते काफ़ी महीने बीत चुके थे. लेकिन आज का दिन उसके लिए थोड़ा अलग था. क्युकी आज कल ही उसके मालिक ने उसे एक घोड़ा लाकर दिया. अब पियरे को पैदल चलकर दूध के बोझ को उठाकर गलियों मैं दूध बाटने की जरुरत ना थी. क्युकी अब वो उस घोड़े को घोड़ा गाड़ी मैं लगाकर हर जगह दूध बता सकता था. पियरे ने अगले ही दिन उस घोड़े का नाम जोसफ रख दिया. अगर कोई उससे पूछता की उसने अपने घोड़े का नाम जोसफ क्यों रखा है. तब वो उसे बड़े विस्तार मैं समझाता की उसने अपने घोड़े का नाम जोसफ संत जोसफ के नाम पर रखा है. Bedtime Panchatantra stories in hindi  घोड़ा खरीदने के अगले दिन ही पियरे ने अपने घोड़े को एक घोड़ा गाड़ी मैं बांध लिया. पियरे अगले दिन अपनी घोड़ा गाड़ी ले…